Tue. Dec 5th, 2023
after 2000 note now there is an update on 500 rupee note

After 2000 note now turn of 500: जैसा कि आप सभी को पता है कि 2000 के नोट को बंद कर दिया गया है। आज 23 मई 2023 से 30 सितंबर 2023 तक लोग बैंक जाकर 2000 के नोट को दूसरे नोटों में बदल सकते हैं। इससे पहले साल 2016 में नोटबंदी आई थी जिसमें 500 और 1000 के नोट को बंद कर दिया गया था उसके बाद 500 के नए नोट और 2000 के नोट को लांच किया गया था।

अब एक बार फिर सरकार ने 2000 Rupee Note को बंद कर दिया है। आज इस लेख के जरिए जानते हैं कि 2000 के नोट कब तक बदले जाएंगे, इसे क्यों किया गया है बंद? आदि जानकारी को जानने के लिए इस लेख को आखिरी तक पढ़े।भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा भारत की सबसे बड़ी करेंसी मुद्रा 2000 रुपए के नोट के सरकुलेशन को बंद करने का ऐलान किया है। 2000 Rupee Note को लेकर बैंक ने कहा है कि यह नोट 30 सितंबर तक बैंकों में जमा किए जाएंगे।

after 2000 note now there is an update on 500 rupee note

2000 Rupee Note के लिए बैंकों ने जारी किया दिशा निर्देश

2000 Rupee Note को बदलने के लिए ग्राहकों को किसी तरह की दिक्कतों का सामना ना करना पड़े इसके लिए आरबीआई ने बैंकों के लिए एक स्पेशल गाइडलाइन जारी की है। इस गाइडलाइन के चलते हर बैंक की ब्रांच में ₹2000 को बदलने के लिए एक विशेष काउंटर होना जरूरी है। अगर किसी व्यक्ति के पास बैंक खाता नहीं है तो उसके ₹2000 के नोट बदले जाएंगे। देश के किसी भी बैंक में जाकर कोई भी व्यक्ति ₹2000 के नोट को बदलवा सकता है। इसके लिए किसी भी तरह का शुल्क नहीं देना होगा।

बैंकों को आरबीआई की तरफ से सलाह दी गई है कि वे ₹2000 का नोट बदलने या जमा करने वाले लोगों को धूप से बचाने के लिए शेड का इस्तेमाल करें। इसके साथ ही लाइन में लगे हुए लोगों के लिए पीने के पानी की व्यवस्था की जाए। इसके साथ बैंकों को रोजाना जमा किए जाने वाले और बदले जाने वाले 2000 के Note नोटों का ब्यौरा रखने को कहा गया है।

UP Government DA Hike : योगी सरकार ने DA वृद्धि की दी मंजूरी, 19 लाख कर्मचारी हुए लाभान्वित

RSMSSB Teacher Recruitment 2023: 48000 Posts @ rsmssb.rajasthan.gov.in

2000 Rupee Note: 30 सितंबर तक नोट बदलने का मिलेगा मौका

आपको बता दें कि रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा है कि 30 सितंबर तक की समय सीमा दी गई है। इस समय सीमा तक ₹2000 के ज्यादातर वापस आ जाएंगे। इसके साथ गवर्नर ने कहा कि या फैसला केंद्रीय बैंक के मुद्रा प्रबंधन का हिस्सा है। इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि 2000 के नोटों को चलन से हटाने के फैसले का अर्थव्यवस्था पर बहुत ही सीमित असर पड़ेगा।

2000 के बाद अब 500 के नोट का नंबर

वहीं, 2000 रुपये के Note के बाद देश में अब तक का सबसे बड़ा नोट 500 Rs का ही रहेगा। इसके साथ ही देश में 500 Rs के नोट का चलन भी काफी है। ऐसे में लोगों को 500 रुपये के असली और नकली नोट की पहचान करने में सक्षम होना चाहिए।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के मुताबिक 500 रुपये के नोट के आगे की तरफ महात्मा गांधी की तस्वीर है। 500 के नोट पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर के हस्ताक्षर भी होते हैं। नोट के पिछले हिस्से में देश की सांस्कृतिक विरासत को दर्शाने वाले “लाल किले” की तस्वीर भी है. जबकि नोट का आधार रंग स्टोन ग्रे है, इसमें अन्य डिज़ाइन और ज्यामितीय पैटर्न भी हैं जो नोट के आगे और पीछे की रंग योजना के साथ संरेखित हैं।

7th Pay Commission: कर्मचारियों की चमकी किस्मत! हो गई 4% DA बढ़ोतरी

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना 2023: छात्रों को मिलेंगे 40,000 रूपये, जल्दी आवेदन करें

500 रुपये के मूल नोट की विशेषताएं

आरबीआई के मुताबिक, 500 रुपये के मूल नोट में कुछ विशेषताएं हैं। 500 रुपये के नोट की कुछ खासियत आरबीआई ने बताई है, अगर 500 रुपये के किसी नोट में यह फीचर नहीं है तो वह नकली होगा। इससे आप आसानी से 500 रुपये के नकली नोट की पहचान कर सकते हैं। ऐसे में आम नागरिकों को 500 रुपये के असली और नकली नोटों के बीच का अंतर समझना आना चाहिए।

  • 500 Rs के असली नोट (Real 500 Rs Note) का आधिकारिक आकार 66 मिमी x 150 मिमी है।
  • बीच में महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का चित्र होगा।
  • मूलांक 500 देवनागरी में लिखा जाएगा।
  • सूक्ष्म अक्षरों में ‘Bharat’ और ‘India’ लिखा जाएगा।
  • मूल्यवर्ग अंक 500 अंकित किया जाएगा।
  • नोट के सामने की तरफ सफेद जगह रोशनी में देखने पर 500 की तस्वीर दिखेगी।
  • एक पट्टी होगी जिस पर ‘India’ और ‘RBI’ लिखा होगा। नोट को झुकाने पर पट्टी का रंग हरे से नीले रंग में बदल जाता है।
    गारंटी क्लॉज, प्रॉमिस क्लॉज के साथ गवर्नर के हस्ताक्षर और महात्मा गांधी के चित्र के दाईं ओर आरबीआई का प्रतीक चिन्ह।
  • महात्मा गांधी का पोर्ट्रेट और इलेक्ट्रोटाइप (500) वॉटरमार्क होगा।
  • ऊपर बाईं ओर और नीचे दाईं ओर बढ़ते हुए फॉन्ट में अंकों के साथ एक संख्या पैनल होगा।
    नीचे दाईं ओर रंग बदलने वाली स्याही (हरे से नीले) में रुपये के चिह्न (₹500) के साथ मूल्यवर्ग।
  • दायीं तरफ अशोक स्तंभ का चिन्ह होगा।
  • बाईं ओर नोट की छपाई का साल होगा।
  • स्लोगन के साथ स्वच्छ भारत का लोगो होगा।
  • मूलांक 500 देवनागरी में लिखा जाएगा।
Sarkariinews Home PageClick Here